Tag Archives: Bhojpuri Sahitya

भोजपुरी हास्य कविता : मच्छर–पचीसा

~प्रमोद कुमार पाण्डे~ जेहिं काटत दुख होय, निशिनायक नींद हरन । करहु अनुग्रह सोई , करन देउ आराम पूरन ।। रक्षणहीन तन जानिके, सुमिरौ नरक कुमार । भनभन भनभन करिके प्रभु ,हरहु न नींद हमार ।।

Posted in भोजपुरी कविता, हास्य - व्यङ्ग्य | Tagged , , , , | Leave a comment

भोजपुरी गजल : गाँव मन पर गइल

~गोपाल अश्क~ गाँव मन पर गइल आँख बा भर गइल ठाँव आपन गइल किस्मतो जर गइल

Posted in भोजपुरी गजल | Tagged , , , , | Leave a comment

भोजपुरी गीत : हम त मुखिया बानी भइया

~हरिहर यादव~ हम त मुखिया बानी भइया सबसे इमानदार विधवा निर्वल के करी भलाई चाहे चुए पसेना पर उपकार के पथ से भइया पीछे कभी हटिना अइसन हृदय के उदार भइया सबसे इमानदार

Posted in भोजपुरी गीत | Tagged , , , , | Leave a comment

भोजपुरी गजल : जिन्दगी के बात पर जिन्दगी लुटाइने

~गोपाल अश्क~ जिन्दगी के बात पर जिन्दगी लुटाइने हम इहाँ बहार के गीत गुनगुनाइने

Posted in भोजपुरी गजल | Tagged , , , , | Leave a comment